जम्मू कश्मीर

हाफिज सईद की बहन आसिया अंद्राबी NIA की हिरासत में, हो रही गहन पूछताछ

 भारत की राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) कश्मीर में पांव पसार रहे पाकिस्तानी आतंकी समूह लश्कर-ए-तैयबा पर नकेल कसने के लिए पूरी तरह से तैयार है।

नई दिल्ली। भारत की राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) कश्मीर में पांव पसार रहे पाकिस्तानी आतंकी समूह लश्कर-ए-तैयबा पर नकेल कसने के लिए पूरी तरह से तैयार है। इसी सिलसिले में लश्कर प्रमुख हाफिज सईद की मुंहबोली बहन आसिया अंद्राबी से गहन पूछताछ की जा रही है। कश्मीर में सक्रिय अलगाववादी नेता आसिया अंद्राबी जिसे नेशनल जांच एजेंसी (एनआईए) के दिल्ली मुख्यालय में लाकर उससे पूछताछ की जा रही है।

कश्मीर में प्रतिबंधित दुख्तरन-ए-मिल्लत की प्रमुख 56 वर्षीय अंद्राबी को दिल्ली के एनआईए लॉकअप में रखा गया है, जहां हर घंटे नई महिला जांचकर्ताओं की एक टीम उससे पूछताछ कर रही है। पूछताछ में उससे लश्कर-ए-तैयबा के प्रमुख हाफिज सईद से तार जुड़े होने और भारत विरोधी गतिविधियों से संबंधित सवाल किए जा रहे हैं।

बुरहान वानी की मौत के बाद प्रदर्शन का आरोप

बता दें कि आसिया अंद्राबी के ऊपर 2016 में कश्मीर घाटी में आतंकी बुरहान वानी की मौत के बाद युवाओं को विरोध प्रदर्शन के लिए उकसाने का आरोप है। इसके लिए आसिया को अप्रैल में वहां गिरफ्तार किया गया था। अब उसे श्रीनगर जेल से शुक्रवार को 10 दिनों की हिरासत में दिल्ली लाया गया है। जांचकर्ताओं ने कहा कि आसिया ने लश्कर प्रमुख हाफिज सईद के साथ सालों से खुलेतौर पर जुड़ी रही है, लेकिन उसे कभी कानून का सामना नहीं करना पड़ा था।

आसिया के ट्विटर अकाउंट को खंगाला जा रहा

उन्होंने बताया कि आसिया ने टेलीफोन पर हाफिज सईद की रैली को संबोधित किया था। जांचकर्ताओं में से एक अधिकारी ने कहा कि हाल ही में हाफिज ने अपनी बहन को कॉल किया था। आसिया अंद्राबी के ट्विटर हैंडल से खुलासा हुआ है कि लश्कर के कई लोग उसके फॉलोवर्स हैं। उनमें से कुछ कश्मीर घाटी में सक्रिय आतंकवादी हैं, जबकि कुछ पाक अधिकृत कश्मीर में सक्रिय हैं। एनआईए ने कहा कि वे आसिया के उर्दू में लिखे ट्वीट का अनुवाद कर रहे हैं। कहा कि उसने इसमें भारत विरोधी बातों का जिक्र है।

अधिकारियों ने कहा कि आसिया अंद्राबी को आज तक राज्यों की आपसी समस्या के चलते कभी जांच के दायरे में नहीं लिया गया। हालांकि कई बार उसे कश्मीर में गिरफ्तार किया गया है। इसके बाद भी उसने भारत विरोधी आतंकी समूहों के साथ संपर्क बनाए रखा। अधिकारियों ने कहा है कि इस बार उनके पास आसिया के खिलाफ कई सारे सबूत हैं जो बताते हैं कि वह घाटी में युवा महिलाओं को प्रदर्शन करने के लिए उकसाने का काम कर रही है।

विदेशों में अच्छी पढ़ाई कर रहे आसिया के बेटे

आसिया के बेटे विदेश में पढ़ाई कर रहे हैं। उसका बड़ा बेटा मेलबर्न में एमटेक कर रहा है, जबकि छोटा बेटा मलेशिया में इस्लामिक यूनिवर्सिटी में स्टूडेंट है। आसिया के खिलाफ कश्मीर में हर साल 14 अगस्त को पाकितान स्वतंत्रता दिवस पर पाकिस्तानी झंडा फहराने का आरोप है। एनआईए के अनुसार, आसिया के खिलाफ दर्ज प्राथमिकी में कहा गया है कि आसिया भारत में अपने नफरतभरे संदेशों को फैलाने के लिए कई सारे मीडिया प्लेटफॉर्म का भी इस्तेमाल करती थी।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Close